क्रेडिट कार्ड को समझें, उपयोग करना सीखें

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

क्रेडिट कार्ड को उपयोग तो सभी करना चाहते हैं परंतु जानकारी के अभाव में उपयोग करने से डरते हैं। क्रेडिट कार्ड  को आपको इस तरह से भी देखना चाहिये कि आप महीने भर में जो भी खर्च कर रहे हैं और कोई और आपके लिये पैसा खर्च कर रहा है और आपको किये गये खर्चे को लिख भी रहा है तो आपको मोटे तौर पर खरीददारी करते समय न तो जेब से पैसा देना है और न ही आपको घर जाकर हिसाब में लिखना है। क्योंकि ये दोनों ही चीजों का ध्यान क्रेडिट कार्ड कंपनी आपके लिये कर रही है।

पहले क्रेडिट कार्ड को समझें –

बैंक आपको एक कार्ड देती है जिसकी लिमिट कि आप अधिकतम कितना खर्चा कर सकते हैं की पात्रता आपके वेतन से निर्धारित होती है। हरेक बैंक अपने अलग अलग स्कीम के कार्ड बाजार में उतारती है। किसी में नगद वापसी की स्कीम होती है तो किसी में ज्यादा रिवार्ड पाईंट्स मिलते हैं, रिवार्ड पाईंट्स का उपयोग आप विभिन्न चीजों को खरीदने में कर सकते हैं।

खरीददारी का भुगतान हमें ही करना होता है

जब आपके पास क्रेडिट कार्ड आ जाता है तो आपकी बिलिंग की तारीख भी आती है। जो कि बहुत ही महत्वपूर्ण है। आपको बिल की तारीख से 20 दिनों के अंदर क्रेडिट कार्ड कंपनी को भुगतान करना होता है।

जब भी आप बड़ी खरीदारी करना चाहते हैं तो अपनी बिलिंग तारीख का ध्यान रखें और खरीदारी करें, जिससे आप अपने बजट का अच्छे से ध्यान रख पायें, ऐसा नहीं हो कि आप सोचें कि कोई खरीदारी आपने कर ली है इसका बिल तो अगले महीने आयेगा और आपने उसका बजट भी अगले महीने पर ही रखा है, परंतु अगर बिलिंग की दिनांक तक की गई खरीदारी आपका उस महीने का बजट बिगाड़ सकती है। बिलिंग की दिनांक का ध्यान रखें और अगर खरीददारी जरूरी है तब भी अगर अगले बिलिंग में उस खरीददारी को आप 2-3 दिन बाद कर सकते हैं।

क्रेडिट कार्ड की जानकारी किसी से भी शेयर न करें

अपना क्रेडिट कार्ड नंबर और उससे जुड़ी हुई जानकारी जैसे कि सीवीवी और वेलिडेट डेट किसी के साथ शेयर न करें, क्योंकि आजकल के तकनीकी वैश्विक युग में आपका क्रेडिट कार्ड कहीं से भी कोई भी उपयोग कर सकता है, यहाँ बैठे बैठे किसी और देश की वेबसाईट से खरीदी की जा सकती है, और क्रेडिट कार्ड के किसी भी ट्रांजेक्शन पर रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया का बस केवल भारतीय कंपनियों और भारतीय भुगतान सिस्टमों तक ही है। जब भी किसी और देश की बेवसाईट पर खरीदारी करते हैं तो बिना किसी पासवर्ड और OTP के आप खरीदारी कर सकते हैं।

क्रेडिट कार्ड से नगद निकालने सोचना भी बहुत महंगा है, हालांकि नगद निकालना बहुत ही महंगा है। सबसे पहले तो क्रेडिट कार्ड कंपनी आप से नगद निकालने की फीस लेगी और फिर जितने दिन आप उस नगद का उपयोग करेंगे याने कि जब तक आप उस नगद और उसके ब्याज का भुगतान नहीं कर देते तब तक आप क्रेडिट कार्ड कंपनी आप पर ब्याज लगाती रहेगी।

समझदारी से खरीददारी करें –

क्रेडिट कार्ड होने का मतलब यह नहीं है कि आप कुछ भी खरीददारी करें, अनाप शनाप खराददारी करें। ध्यान रखें जो खरीददारी कर रहे हैं, उसका भुगतान भी आपको ही करना है, हमेशा अपने बजट का ध्यान रखें। क्रेडिट कार्ड का वहीं उपयोग करें जो कि आपकी महत्वपूर्ण खरीददारी करें, जिसके बिना काम चल ही नहीं सकता है या फिर यह भी कह सकते हैं कि जो आपके नियमित खर्च हैं जैसे कि – फोन, बिजली, केबल, ब्रॉडबैंड का बिल, किराना, सब्जी, स्कूल फीस इत्यादि।

One thought on “क्रेडिट कार्ड को समझें, उपयोग करना सीखें

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *