क्रेडिट कार्ड फोन मार्केटिंग में इन बातों से बचें

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

खरीदने के पहले ऑफर

आजकल ऑनलाईन युग के जमाने में हम क्रेडिट कार्ड से कुछ भी खरीदने से पहले ऑफर ढ़ूँढ़ते हैं और अच्छे से अच्छे ऑफर मिलने के बाद, संतुष्ट होने के बाद ही हम खरीदारी करते हैं, हम कोशिश करते हैं कि ज्यादा से ज्यादा पैसा बचा लें। आजकल हम लोग ऑफर के लालच में बहुत जल्दी आ जाते हैं और अपनी जरूरत से ज्यादा भी खरीद लेते हैं, इसके लिये ही हम अधिकतर क्रेडिट कार्ड का ही उपयोग करते हैं और ऑफर देखकर अपने तय बजट से ज्यादा की खरीददारी कर लेते हैं। उसके बाद उसका पैसा न चुका पाने के कारण फिर क्रेडिट कार्ड कंपनियों के ब्याज के जाल में फँस जाते हैं।

क्रेडिट कार्ड

क्रेडिट कार्ड को समझें, उपयोग करना सीखें

ऑफर लेने के लिये निजी जानकारी साझा न करें

कभी भी फोन पर बातचीत में या प्रत्यक्ष में भी अपनी किसी प्रकार की निजी जानकारी साझा न करें, कोई भी आपकी निजी जानकारी से गलत फायदा उठा सकता है। कभी भी अपना मोबाईल किसी के हाथ न लगने दें, हमेशा मोबाईल अपने पास ही रखें और हो सके तो मोबाईल में पासवर्ड डालकर अपनी जानकारियाँ सुरक्षित रखें, एस.एम.एस. नोटिफिकेशन की सेटिंग डिसेबल रखें जिससे लॉक मोबाईल में कोई भी आपके आये हुए एस.एम.एस. न पढ़ पाये और आपकी जानकारी सुरक्षित रहे।

अच्छे क्रेडिट कार्ड के चक्कर में न फँसे

आजकल फोन पर मार्केटिंग का जमाना है, और फोन मार्केटिंग वाले इतने चतुर होते हैं और इतने प्रभावी तरीके से बातें बनाते और करते हैं कि अच्छे से अच्छा तीसमारखाँ इनके जाल में फँसने से चूक नहीं सकता, बतायेंगे कि आपको इस कार्ड में यह सुविधा है, आपको इतने डिस्काऊँट मिलेगा, और भी बहुत सी सुविधाओं के बारे में बतायेंगे। सबसे पहले आप खुद ही नेट पर ढ़ूँढ़ लें और देखें कि इस तरह के ऑफर वाकई में कोई कार्ड कंपनी उपलब्ध भी करवा रही है या नहीं। आप को खुद ही पता चल जायेगा कि फोन पर मार्केटिंग करने वाले आपको गलत जानकारी दे रहे हैं, और बरगलाने के लिये यह भी कहा जायेगा कि यह ऑफर आपके लिये विशेष है और यह ऑफर बाजार में उपलब्ध नहीं है।

सहानुभूति न दिखायें

फोन पर मार्केटिंग वाले अपना उत्पाद बेचने के लिये सारे ब्रह्मास्त्र अपना लेते हैं, जब उनको लगता है कि अपना उत्पाद बेचने के लिये थोड़ा सा सहानुभूति का मसाला डालना बाकी है तो ये लोग उसमें भी बिल्कुल देर नहीं करते हैं। कहेंगे कि पहले साल तो कार्ड फ्री है अगर पसंद नहीं आये तो आप कार्ड को वापस कर दीजियेगा, या फिर भावानात्मक रूप से कहेंगे कि सर अगर आप हमारा कार्ड ले लेंगे तो हमें कुछ कमीशन मिल जायेगा, यह कार्ड फ्री है और आपके लेने के बाद अगर आप 45 दिनों तक कार्ड वापसी नहीं करते हैं तो हमें हमारा कमीशन मिल जायेगा, अगर आपको कार्ड ठीक न लगे तो आप वापिस कर देना। बिल्कुल सहानुभूति न दिखायें और कार्ड अगर आपको उपयोगी और आपके काम का न लगता हो तो बिल्कुल न लें। आप अपना समय भी बचायेंगे और इस तरह से आप एक फालतू कार्ड खरीदने से भी बच जायेंगे।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *