म्यूचुअल फंड और शेयर बाजार में निवेश कब करें? When to Invest in Mutual Fund and Equity Market​?

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

हम निवेश के लिये हमेशा ही उत्साहित रहते हैं और हमेशा ही अपनी जमापूँजी को, मेहनत की गाढ़ी कमाई को किसी और के कहने पर दाँव पर लगाने के लिये तैयार रहते हैं। हम अपनी ही बचत के लिये अपना दिमाग खर्च करने की बिल्कुल कोशिश नहीं करते हैं, बस किसी एक्सपर्ट ने क्या बता दिया, वह पत्थर की लकीर हो गया। अगर आप भी ऐसा करते हैं, तो ठहरिये, सोचिये, समझिये, ये जो पैसा आप किसी और के कहने पर, जो कि टीवी या रेडियो से बोल रहा है, वह तो इतना बोलकर अंतर्ध्यान हो जायेगा, अगर आपको घाटा हुआ तो आप कुछ नहीं कर पायेंगे, केवल अपनी किस्मत को दोष ही देंगे।

ऐसे कभी भी अपने निवेश न करें, निवेश करने के लिये कोई बहुत बड़ी पढ़ाई लिखाई नहीं चाहिये होती है, केवल थोड़ी सी समझ भी बहुत होती है। कुछ बुनियादी बातें मैं यहाँ बताना चाहता हूँ

म्यूचुअल फंड में निवेश जब भी करें, यह नियम जरूर पालें

६ माह से २ साल के लिये डेब्ट फंड में ही निवेश करें

२ साल से अधिक के लिये अपनी रिस्क देख लें और उचित प्रकार से निवेश करें। हमेशा ही लंबी अवधि याने कि १० वर्ष या अधिक के लिये निवेश करें, तभी अच्छा खासा फायदा होगा, कम से कम आप १२% प्रतिवर्ष की ब्याज दर का लाभ मानकर चलें। मेरे खुद के कई निवेश हैं जो कि २०% से ज्यादा के लाभ दे रहे हैं। बस हमें लंबी अवधि के लिये सोचना है और उन निवेशों को हाथ नहीं लगाना है।

शेयर बाजार में निवेश कब करें

शेयर बाजार में भी निवेश कभी भी कर सकते हैं, बस यह ध्यान रखें कि आपको शेयर बाजार के निवेश के बारे में थोड़ा बहुत पता हो, लंबी अवधि के निवेशकों को बहुत ज्यादा एक्सपर्ट होने की भी जरूरत नहीं है। यहाँ भी सबसे बड़ी समस्या यह है कि जो टीवी पर कहा जाता है, लोग उसे ही सुनकर फैसला ले लेते हैं। उस समय वे किसी एक्सपर्ट की सलाह को ही सर्वोपरि मान लेते हैं, हमेशा इस बात का ध्यान रखिये, कि टीवी पर उनको सारी चीजें बेचना पड़ती हैं, मैंने ऐसे बहुत से लोग देखे हैं जो कि एक्सपर्ट के कहे अनुसार खरीद तो लेते हैं, पर उनको घाटा उठाना पड़ता है।

हमेशा ही खुद पढ़ें और समझें तभी निवेश करें, अगर निवेश खुद से करने जा रहे हैं, तो हमेशा ही बड़ी कंपनियों में निवेश करें, न कि छोटी कंपनियों में जिनका नाम आपने न सुना है और न ही आपको उनके व्यापार और प्रबंधन के बारे में पता है, और उन कंपनियों के प्रबंधन और व्यापार की चर्चा कहीं भी नहीं होती है, आपका अपना पैसा है, आपको बहुत सावधानी बरतनी चाहिये। और अगर किसी ऐसी कंपनी में निवेश करना भी चाहते हैं तो पहले खुद उसके बारे में पढ़ लें और फिर निवेश करें। जल्दी पैसा कमाना आपका उद्देश्य नहीं होना चाहिये, आपको हमेशा ही याद रखना चाहिये कि आप यहाँ रातों रात अमीर बनने नहीं आये हैं, बल्कि यहाँ बैंक से ज्यादा ब्याज दर कमाने के लिये आये हैं।

शेयर बाजार में उतार चढ़ाव आते रहते हैं, और जब ज्यादा कमाना है तो आपको रिस्क भी ज्यादा ही लेनी होगी, इसलिये अपनी निगाहें शेयर बाजार पर सतत रखें, क्योंकि कुछ बड़ी कंपनियाँ भी अच्छा नहीं कर पाती हैं और डूब जाती हैं, तो ऐसा न हो कि आप अच्छी कंपनी में निवेश करके सो जायें, नहीं तो आपकी गाढ़ी कमाई का पैसा डूब जायेगा।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *