अगर 5 लाख रूपये की ब्याज से आय है तो 15H फॉर्म भर सकते हैं ?

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

अगर 5 लाख रूपये की ब्याज से आय है तो 15H फॉर्म भर सकते हैं ?

आज ही एक बंदे से मिला तो बातों ही बातों में उसने पूछा कि उसके पिताजी को बैंक के फिक्सड डिपॉजिट के ब्याज से आय लगभग 5 लाख रूपये होती है और वे आयकर की धारा 80 C के तहत 1.50 लाख रूपये निवेश भी करते हैं। पर अभी बैंक फिक्सड डिपॉजिट पर टीडीएस काटता है, और फिर से उनको आयकर भरते समय आयकर विभाग से रिफंड क्लैम करना पड़ता है।

मैंने कहा कि अगर ब्याज से हुई आय आयकर की धारा 80 C के तहत 1.50 लाख रूपये निवेश करने के बाद आयकर के दायरे में नहीं आतीहै तो आप बैंक में जाकर बैंक को 15H फॉर्म भर सकते हैं, इससे 10,000 रूपयों से ज्यादा ब्याज पर बैंक टीडीएस नहीं काटेगा। बैंक में हर वर्ष अप्रैल में जाकर 15H फॉर्म भरना होगा, जिससे बैंक टीडीएस नहीं काटे। जब 15H भरें तो अपनी सारी फिक्सड डिपॉजिट के खाते नंबर जरूर भर दें, अगर कोई खाता नंबर छूट गया तो उस फिक्सड डिपॉजिट पर टीडीएस कट जायेगा। हमेशा बैंक को 15H देने के साथ ही एक कॉपी अपने पास जरूर रखें, अगर भविष्य में कोई गड़बड़ हुई तो यह कॉपी आपके बहुत काम आयेगी।

अगर टीडीएस कटता भी है तो आपको वह टीडीएस 26AS में दिख जायेगा, और आप आयकर के रिटर्न जमा करते समय इस टीडीएस को रिफंड क्लैम कर सकते हैं।

अगर ब्याज की आय या किसी और अन्य आय से संपूर्ण आय इतनी हो जाये कि वे 10 प्रतिशत टैक्सेबल की श्रेणी में आ जाये तो 15H नहीं भरना चाहिये, यह टीडीएस सीधे बैंक काटकर जमा करवा देगा, और वर्ष के अंत में बैंक से जाकर आप ब्याज का सर्टिफिकेट ले लीजिये, आजकल तो सीधे ही इंटरनेट बैंकिंग से डाऊनलोड कर सकते हैं। ध्यान रखें कि अगर आपकी आय टैक्सेबल नहीं हो रही है और टीडीएस कट गया है तो आप आयकर रिटर्न भरते समय आयकर विभाग से रिफंड क्लैम कर सकते हैं। और आपका रिफंड आयकर विभाग सीधे आपके बचत खाते में जमा कर देगा, आजकल तो आयकर विभाग रिफंड 50 दिनों के अंदर ही दे देता है।

2 thoughts on “अगर 5 लाख रूपये की ब्याज से आय है तो 15H फॉर्म भर सकते हैं ?

  1. कोई व्यक्ति जो शासकीय सेवक है बैंक एफडी पर ब्याज में से TDS काट लेता है एवं विभाग से भी TDS काटा जाता है तो वह 192(2) फार्म भरते समय बैंक व्याज TDS टैक्स में से कम कर सकता है या रिटर्न भरने पर रिफण्ड होगा।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *