आयकर विभाग शिकायतों के समाधान के लिये ई-निवारण लेकर आया

ई-निवारण आयकर विभाग ने शिकायतों के समाधान के लिये, इलेक्ट्रॉनिक तरीके से शिकायतों को निपटाने के लिये ई-निवारण नाम से नया सिस्टम उतारा है, ई-निवारण से बेहद तेजी से आयकरदाताओं को शिकायतों को सुना जायेगा और सुनिश्चित किया जायेगा कि जल्दी से जल्दी उनकी शिकायतों का निराकरण कर दिया जाये।
Continue reading…

 

आयकर के जाँच के दायरे में आने के कारण

कई बार हम लोग सुनते हैं कि फलाना बंदा आयकर के जाँच के दायरे में आ गया, तो हमें भी डर लगता है कि कहीं हम भी कुछ गलत तो नहीं कर रहे हैं जिससे हम भी आयकर जाँच के दायरे में आ जायें, वैसे इसमें डरने वाली बात कुछ नहीं है क्योंकि आयकर जाँच […]
Continue reading…

 

आयकर में छूट पाने के लिये सही जगह निवेश करें

आयकर में छूट पाने के लिये हम जीवन भर निवेश के बारे में योजना बना सकते हैं, पर अगर एक बार आप तैयार हो जायें तो योजना की मनोस्थिती से बाहर आकर निवेश करना शुरू करें। हमेशा योजना की मनोस्थिती में रहना भी ठीक नहीं, कभी न कभी तो योजना पर अमल करना भी जरूरी […]
Continue reading…

 

KYC Compliance म्यूचयल फंड या बाजार में निवेश के लिये जरूरी है।

  अगर आप म्यूचयल फंड या बाजार में याने कि सीधे स्टॉक, बॉन्ड या कमोडिटी में निवेश करना चाहते हैं तो निवेशक को सेबी (SEBI) की जरूरत याने कि Know Your Customer KYC Compliance को पूरा करना होता है। हर व्यक्ति निवेश करना चाहता है परंतु केवल Know Your Customer (KYC) को जटिल प्रक्रिया मानकर […]
Continue reading…

 

जीवन बीमा निगम (LIC) के बीमे के बारे में

केवल जीवन बीमा निगम (LIC) हम लोग बचपन से ही बीमा के नाम पर केवल जीवन बीमा निगम (LIC) को ही जानते हैं, बीमे के प्रीमियम की रकम इतनी ज्यादा होती है और बीमित रकम बहुत कम होती है। क्योंकि यह पारम्परिक योजनाएँ होती हैं और ऐसे भी आप किसी भी जीवन बीमा निगम (LIC) […]
Continue reading…

 

क्या आप सुरक्षित आर्थिक जीवन के लिये प्रतिबद्ध हैं ?

    हम कमाते हैं, हम घर के खर्चों को उठाते हैं, बैंक के ऋण की किस्त चुकाते हैं और हमारी बचत बैंक में हो ही रही है। और फिर बाद में हम अपनी कमाई की बचत से सावधि जमा (Fixed Deposit) बनवा लेते हैं और थोड़े समय बाद फिर से एक और बनवा लेते हैं। […]
Continue reading…