CIBIL में सैटल्ड फ्लैग को क्लोज फ्लैग कैसे करें। (How to Change the Settled Flag in to Closed in CIBIL)

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

CIBIL में सैटल्ड फ्लैग को क्लोज फ्लैग कैसे करें –

सिबिल में अगर आपका क्रेडिट कार्ड या बैंक लोन एकाऊँट सैटल्ड फ्लैग है तो ये ध्यान रखें कि आपको बैंक लोन नहीं देगी भले ही आपका क्रेडिट स्कोर बहुत अच्छा हो या फिर आपकी तन्ख्वाह भी बहुत अच्छी हो। क्योंकि सैटल्ड फ्लैग से बैंक यही समझता है कि व्यक्ति के लिये लोन का पैसा चुकाना प्राथमिकता नहीं है, या फिर आपका कमाई और खर्चों का बराबर तालमेल नहीं है। जिसके कारण आपका लोन खाता सैटल्ड हो रहा है, इससे आप जाने अनजाने अपना खुद का ही नुक्सान कर रहे हैं।

एक बार आपने किसी क्रेडिट कार्ड या लोन में कहीं भी सैटलमेंट किया तो आपकी सिबिल में वह हमेशा के लिये सैटल्ड फ्लैग से दर्ज हो जाता है।

आपको लोन चाहिये और यह सैटल्ड फ्लैग के कारण आपको लोन या क्रेडिट कार्ड नहीं मिल पा रहा है तो आपको क्या करना होगा, जब कोई परेशानी होती है तो परेशानी का हल भी हमेशा उपलब्ध होता है। हो सकता है कि जब आपने सैटल्ड करवाया हो तब आप वित्तीय परेशानियों से जूझ रहे हों पर अगर भविष्य में आप वित्तीय तौर पर मजबूत हो रहे हैं और आपको भविष्य में लोन या क्रेडिट कार्ड चाहिये तो आपको सबसे पहले अपने सिबिल से सैटल्ड फ्लैग को साफ करना चाहिये। साफ करने से मतलब है कि सैटल्ड फ्लैग को क्लोज फ्लैग करवाना चाहिये। सिबिल सीधे कोई आवेदन नहीं लेता है, सारी जानकारियाँ केवल बैंक या लोन देने वाली कंपनियाँ ही सिबिल को प्रदान करती हैं।

सैटल्ड फ्लैग से क्लोज फ्लैग कैसे करें –

सैटल्ड फ्लैग से क्लोज फ्लैग करने के लिये आपको अपनी क्रेडिट कार्ड बैंक या लोन देने वाली बैंक से बात करनी होगी, और उनको पूछना होगा कि कितनी रकम याने कि मूलधन, ब्याज और अन्य शुल्क आपको बैंक को चुकाने होंगे जिससे कि आपका सैटल्ड एकाऊँट बंद करवाया जा सके। बैंक या क्रेडिट कार्ड कंपनी बहुत तेजी से इस तरह के प्रपोजल पर कार्य करती हैं और वे एकदम या बहुत ही जल्दी आपको सारी जानकारियाँ प्रदान कर देती हैं, क्योंकि उनको भी अपना डूबा हुआ पैसा वापिस मिल रहा होता है।

जब बैंक या क्रेडिट कार्ड कंपनी आपको सारी जानकारी प्रदान कर दें तो आप उनके द्वारा बताई गई मूलधन, ब्याज और अतिरिक्त शुल्क की राशि की गणना आप भी कर लें और समझ न आये तो बैंक वालों को ही बोलें कि हमें यह गणना समझायें। बैंक या क्रेडिट कार्ड कंपनी आपको गणना समझाने में पूरी मदद करेगी। जब आप संतुष्ट हो जायें तो आप वह रकम भर दें और बैंक या क्रेडिट कार्ड कंपनी से आग्रह करें कि वे आपको यह पैसा भरने का एक सर्टिफिकेट जारी कर दें, यह भी कहीं किसी काम नहीं आने वाला है, परंतु यह सर्टिफिकेट आपको भविष्य में आने वाली परेशानियों से बचा सकता है।

जब आप बैंक या क्रेडिट कार्ड कंपनी का बकाया चुका देंगे तो उनके पास से सैटल्ड फ्लैग से क्लोज फ्लैग की जानकारी सिबिल को दे दी जायेगी, लोन चुकाने की प्रक्रिया के बाद क्लोज फ्लैग सिबिल में दिखने के लिये लगभग 50 दिन की प्रक्रिया होती है। और 50 दिन बाद आप सिबिल में देखेंगे तो पायेंगे कि सैटल्ड फ्लैग क्लोज में बदल गया है।

अगर 50 दिन के बाद भी फ्लैग नहीं बदलता है तो आप बैंक या क्रेडिट कार्ड कंपनी से लिये गये सर्टिफिकेट को लेकर उनसे मिलें और अपनी समस्या से अवगत करवायें, और बतायें कि पैसा पूरा भर दिया हो तो यह सैटल्ड फ्लैग अब क्लोज फ्लैग होना चाहिये।

एक बार क्लोज फ्लैग आपके सिबिल में हो जाये और क्रेडिट स्कोर अच्छा हो तो आपको कहीं भी लोन और क्रेडिट कार्ड मिलने में समस्या नहीं आयेगी।

2 thoughts on “CIBIL में सैटल्ड फ्लैग को क्लोज फ्लैग कैसे करें। (How to Change the Settled Flag in to Closed in CIBIL)

  1. Mai apni credit card ki outstanding bill pay krne ke eligible nhi hu.. bank se emi ki request kai baar registered karai hai lekin koi solution nhi nikla or collection department walo ma roj call ata.. ap btao mai kya kru..?

    • आप इसके लिये उनको एक इमेल भेजिये, वे आपकी बात जरूर मान लेंगे।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *