ग्यारंटीड लाभ वाले म्यूचयल फंड या यूलिप ज्यादा रिटर्न क्यों नहीं देते ?

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

ग्यारंटीड लाभ वाले म्यूचयल फंड या यूलिप ज्यादा रिटर्न क्यों नहीं देते ?

बहुत से म्यूचुयल फंड, यूलिप या किसी और स्कीम में हम लोग सुनते हैं कि आपका पैसा शेयर बाजार में लगायेंगे और आपको अच्छे रिटर्न की ग्यारंटी भी देते हैं। निवेशक भी लालच में आकर इस प्रकार के फंड, यूलिप या स्कीम में पैसा लगा देता है। क्या कभी निवेशक निवेश करने के पहले कभी इस तरह के ग्यारंटीड लाभ वाले म्यूचुयल फंड, यूलिप या स्कीम का कभी कोई अध्ययन करते हैं। जबाब है नहीं, क्योंकि निवेशक को पता ही नहीं होता है कि अध्ययन क्या करना चाहिये। न कभी निवेशक बेचने वालों से सवाल पूछता है कि कैसे वे ग्यारंटीड लाभ देने की बात कर रहे हैं जबकि शेयर बाजार में इतने उतार चढ़ाव होते हैं, जिसमें हर निवेश और निवेशक को जोखिम होता है।

ग्यारंटीड लाभ क्या होता है, यह समझने की कोशिश करते हैं। इस तरह की स्कीमों में कहा जाता है कि आपको आपका पैसा उच्चतम एन.ए.वी. पर दिया जायेगा। जिससे आप हमेशा ही लाभ में रहेंगे। मान लीजिये कि आपने जब निवेश किया उस समय फंड, यूलिप या स्कीम की कीमत 12 रूपये की एन.ए.वी है व बाजार बहुत ही अच्छा कर रहा है तो थोड़े समय के बाद एन.ए.वी. 22 रूपये हो गयी। तो यहाँ पर फंड, यूलिप या स्कीम अपने इक्विटी पोर्टफोलियो को बेचकर ऐसी जगह लगा देंगे जहाँ भले ही थोड़ा बहुत रिटर्न मिले पर नीचे न जाये, फिक्सड डिपॉजिस जैसे उत्पाद डेब्ट बाजार में बहुत सारे होते हैं। तो अगर बाजार अब नीचे या ऊपर जायेगा तो उसका फायदा या नुक्सान आपको नहीं होगा। फिर से फंड अब नये निवेश को बाजार में लगाता जाता है जिससे वे उच्चतम एन.ए.वी. को हमेशा ही बनाये रखते हैं।

अगर यह कहा जाये कि कम जोखिम वाले निवेशकों के लिये यह ठीक है, तो शायद उनको लाभ भी तो कम होगा। कभी भी फंड, यूलिप या स्कीम कंपनियाँ सारी बातें खुलकर निवेशक को बताती नहीं हैं। कुछ कंपनियाँ बताती भी हैं तो निवेशक उस भाषा को समझ नहीं पाते हैं। बेहतर है कि हमेशा ही जब भी आप कोई भी वित्तीय उत्पाद को खरीदें तो जब तक कि आपको पूरा समझ न आ जाये तब तक किसी भी वित्तीय उत्पाद में निवेस न करें। यह हमेशा ही आपको लाभ देगा। क्योंकि आपको पता होगा कि इस वित्तीय उत्पाद में निवेश करने के क्या फायदे और क्या नुक्सान हैं।

इस तरह के फंड, यूलिप या स्कीमों में कभी भी आपको अपने इक्विटी या डेब्ट का प्रतिशत चुनने की आजादी नहीं होती है, और न ही इस तरह के उत्पादों में ज्यादा ऑप्शन उपलब्ध होते हैं। हमेशा ही कुछ थोड़े बहुत घुमा फिराकर कुछ भी कहने वाले उत्पाद ही उपलब्ध होते हैं। निवेशक उच्चतम एन.ए.वी. देखकर इनमें निवेश करते हैं, ध्यान रखें कि फंड, यूलिप या स्कीम कंपनियाँ उच्चतम लाभ नहीं कह रही हैं।

जैसा कि मैं पहले भी बता चुका हूँ कि इक्विटी वाले म्यूचुयल फंडों में 12-15 प्रतिशत तक का रिटर्न मिलता है और डेब्टस फंड में 6-8 प्रतिशत तक का रिटर्न मिलता है। और ग्यारंटीड लाभ वाले म्यूचुयल फंड में लगभग 9-10 प्रतिशत तक का रिटर्न मिलता है, अगर आपको 9-10 प्रतिशत तक का ही रिटर्न चाहिये तो इस तरह के उत्पाद आपको लिये बिल्कुल सही हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *