HRA में छूट के लिये पत्नी को किराया देना

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

सावधान अगर आप अपनी पत्नी को किराया देते हैं तो

अगर आप अपनी पत्नी को किराया देते हैं तो आप HRA या 80GG के तहत छूट नहीं ले सकते हैं, भले ही आपके पास उसकी रसीद हो। इस तरह के बहुत से केस आयकर विभाग में आये हैं जहाँ पर पत्नी अपनी किराये की आमदनी बता रही थी, जो कि असल में आप खुद ही किराया दे रहे थे। और इस तरहे के केसों खारिज करने का आधार यही है कि पति और पत्नी एक साथ रहते हैं तो पति पत्नी को किराया नहीं दे सकता है।

परंतु फिर भी आप तर्क प्रस्तुत कर सकते हैं क्योंकि HRA की छूट तब उपलब्ध है जब कि घर के मालिक कोई नजदीकी रिश्तेदार है (जैसे कि अभिभावक या पत्नी) और जिसके लिये आप नियमित रूप से किराया दे रहे हैं। इसके लिये कुछ कोर्ट केस भी लड़े गये हैं और जीते भी गये हैं जिसमें आयकर विभाग को HRA में छूट देना पड़ी है।

इसका मतलब यह भी समझा जा सकता है कि अगर होम लोन पत्नी के नाम पर है तो पति पत्नी को किराया देकर HRA क्लेम कर सकता है। केवल यह उन्हीं पति पत्नी के लिये फायदेमंद है जिसमें पत्नी का आय शून्य हो या टैक्स कम लगता हो, तो पति और पत्नी दोनों ही इस तरहे के ट्रांजेक्शन का फायदा ले सकते हैं। परंतु आप आयकर विभाग की स्क्रूटनी में आने के लिये भी तैयार रहें। यह भी याद रखें कि अगर आपके विरूद्ध फैसला आता है तो आपको जुर्माना और ब्याज दोनों ही देना पड़ेगा। अगर आप विश्वस्त हैं तो ही आप इस तरह की छूट के चक्कर में न पड़ें। यह जितना फायदा देने वाला है उतना ही जोखिम भी हो सकता है।

अगर आप अपनी पत्नी के नाम पर घर केवल इस किराये के फायदे का लिये ले रहे हैं तो ध्यान रखें कि दंड देने के लिये नियम भी है सेक्शन 64 के तहत जो कि टैक्स से बचने के लिये होता है।

मूलत आपके दस्तावेज बिल्कुल सही होने चाहिये और साथ ही यह भी साफ रहना चाहिये कि घर खरीदने में किसने रकम अदा की है और कितनी रकम अदा की है, यह सब बहुत ही ज्यादा महत्वपूर्ण है। कानून में ऐसा कुछ नहीं लिखा है कि आप किसी परिवार के सदस्य को किराया नहीं दे सकते हैं। लेकिन फिर भी यह बताना, समझाना और प्रत्युत्तर देना बहुत ही कठिन है और खासकर तब जब कि मकान मालकिल पत्नी हो। मैं कभी भी किसी को भी पत्नी को किराया देने की राय बिल्कुल भी नहीं दूँगा।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *