सेवानिवृत्ति के बाद भी क्या ELSS में निवेश जारी रखना चाहिये ?

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

सेवानिवृत्ति के बाद भी क्या ELSS में निवेश जारी रखना चाहिये ?

ELSS याने कि Equity Linked Saving Schemes आयकर की धारा 80 C में एकमात्र ऐसा उत्पाद है जिसका लॉकइन समय सबसे कम है, याने कि केवल 3 वर्ष बाकी के उत्पादों याने कि PPF, NSC, FD के लॉकइन समय 5 वर्ष या इससे ज्यादा हैं। सेवानिवृत्ति के बाद अगर आपको आयकर में धारा 80 C में बचत करनी है तो ELSS में निवेश करना बंद मत कीजिये, यहाँ आपको अच्छे रिटर्नस मिलते हैं और आपका आयकर जो बच रहा है वह तो है ही। सेवानिवृत्त होने से ये नहीं है कि आप सीधे शेयर बाजार में निवेश करना बंद कर दें, हाँ बस ध्यान रखें कि अब आपकी आय का जरिया पेंशन है या फिर आप आपकी जीवन भर की बचत को निवेश कर, उसी से अपना काम चला रहे हैं।

और जैसा कि अगर आप अभी तक ELSS में निवेश करते आ रहे हैं तो आपको पता है कि ELSS से होने वाले लाभ हैं –

  1. आप इन्फ्लेशन से अपने निवेश को बचा रहे हैं, और अच्छे रिटर्नस पा रहे हैं।

  2. जितना भी आपको फायदा होगा उस पर आपको कोई आयकर नहीं देना होगा।

वैसे ही अगर शेयर बाजार में सीधा निवेश करते हैं तो 12 महीने के बाद शेयर बेचने पर शेयर पर हुए लाभ का कोई आयकर देना नहीं होता है। हाँ अगर आपने म्यूचुयल फंड डेब्टस में निवेश किया है तो उसका लाभ आयकर के अधीन है और आपको उस पर हुए लाभ पर कर चुकाना होगा।

अगर आप निवेश के लिये अच्छे ELSS देख रहे हैं तो इन्हें भी चुन सकते हैं –

फ्रेकलिन इंडिया टैक्सशील्ड

रिलायंस टैक्स सेवर

एक्सिस लांग टर्म इक्विटी

ध्यान रखें जब आप खुद ही निवेश कर रहे हैं तो हमेशा ही म्यूचुयल फंड के ग्रोथ डाईरेक्ट ऑप्शन को चुनें।

One thought on “सेवानिवृत्ति के बाद भी क्या ELSS में निवेश जारी रखना चाहिये ?

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *