भारत की वित्तीय एवं निवेश उद्योग को समझें – मुद्रा, वित्तीय परिसंपत्तियाँ, प्रतिभूतियाँ Indian Financial and Investment Industry Money

Basic Concept – वित्तीय तंत्र बाजार और संस्थाओं का जाल होता है, जो कि अर्थव्यवस्था में धन को सभी विभागों तक पहुँचाते हैं। विभिन्न विभागों में धन संचार कई तरीकों से होता है जैसे मुद्रा (Money), वित्तीय पूँजी, प्रतिभूतियाँ (डेब्ट, इक्विटी)। सबसे पहले हम इन बुनियादी बातों को समझते हैं, जो कि हमें इस वित्तीय […]
Continue reading…

 

DPD (Days Past Dues) क्या है और इसका सिबिल स्कोर और रिपोर्ट पर क्या असर है?

DPD (Days Past Dues) का मतलब कि आपने ऋण की किश्त कितनी देरी से भरी है, यह बहुत आम बात है, परंतु जिसने ऋण लिया है उसके लिये बहुत मुश्किल भी है।
Continue reading…